DA क्या है ?और PA क्या है? और उसे कैसे बढ़ाए?

DA क्या है ?और PA क्या है? और उसे कैसे बढ़ाए?

बहुत से ब्लॉगर लोग जो होते हैं उन्हें DA और PA के बारे में पता नहीं होता है। तो आज हम इसी के बारे में इस लेख में बात करेंगे कि DA क्या है ?और PA क्या है? और उसे कैसे बढ़ाए?

ब्लॉगर के लिए DA और PA क्या होता है यह जानना बहुत जरूरी है। यह पोस्ट पूरा पढ़िए इसमें मैंने इन के बारे में सारी जानकारी बताइ है। इंटरनेट पर ऑनलाइन बहुत सारे हर रोज नए ब्लॉगर जुड़ रहे हैं जिनको पता है DA और PA के बारे में वह उसे बढ़ाने में अपनी मेहनत लगा देते हैं लगातार पोस्ट दिखते हैं, क्वालिटी कंटेंट लिखते हैं, बैकलिंक्स बनाते हैं ,SEO पर ध्यान देते है, ताकि हमारे साइट का DA और PA जल्द बढे।

DA और PA हमारी वेबसाइट के रैंकिंग के लिए जरुरी है इसलिए हमें इसपर भी साथ साथ ध्यान देना चाहिए। DA और PA बढ़ने में काफी समय लगता है वह धीरे धीरे बढ़ता है। DA और PA का स्कोर 1 से 100 के बीच में होता है मतलब कि 50 और 40 के नीचे वाली DA वाली वेबसाइट से हम Low medium क्वालिटी बैकलिंक्स मिलेगी और 50 से 90 और उससे ज्यादा DA और PA वाली वेबसाइट से हमें हाई क्वालिटी बैकलिंक्स मिलेगी। हमारी वेबसाइट का DA और PA बढ़ेगा तो उसके साथ हमारी वेबसाइट का भी रैंक बढ़ेगा। पर DA बढ़ाने के लिए Dofollow बैकलिंक ज्यादा जरुरी होते है।

DA क्या है? Domain Authority क्या है?

DA का फुल फॉर्म Domain Authority है, Domain Authority यह एक मेट्रिक है जिसको MOZ नामक कंपनी ने बनाया है जिसका उद्देश्य है वेबसाइट को 1 से 100 के बीच में रेटिंग देना Domain Authority होता है। जिसकी रैंकिंगअच्छी है वह आसानी से जल्द ही गूगल पर रैंक करता है। Domain Authority एक सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का महत्वपूर्ण हिस्सा है DA से MOZ यह चेक करता है कि वेबसाइट सर्च इंजन पर कितने अच्छे रैंक पर है।

जितनी वेबसाइट पुरानी होती जाएगी उठना है कि आप की वेबसाइट का DA यानी डोमेन अथॉरिटी बढ़ेगी। सिर्फ आप उस वेबसाइट पर आर्टिकल डालते रहना चाहिए आप अगर कंटीन्यूअसली वेबसाइट पर हर रोज पोस्ट डालोगे तो कम से कम 6 महीने और 1 साल में आपका DA 10 से 12 के बीच में चला जाएगा। क्योंकि यह बहुत धीरे-धीरे बढ़ता है और आपकी डोमेन अथॉरिटी जितनी अच्छी और ज्यादा होगी उतना ही आपको गूगल से ऑर्गेनिक सर्च ट्रैफिक मिलेगा। क्योंकि आपकी वेबसाइट गूगल पर रह कर चुकी होगी।

Domain Authority कैसे बढ़ाये ?

सबको लगता है कि हमारी वेबसाइट डोमेन अथॉरिटी हाई हो क्योंकि जिनको DA के बारे में पता है वह जानते है DA का महत्व क्या है। मैंने कुछ कारगर टिप्स बताएं जिसके कारण आपके साइट की डोमेन अथॉरिटी बढ़ने में मदद मिलेगी।

On page SEO पर ध्यान दें

On page SEO एक डोमेन अथॉरिटी बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण हिस्सा है। और यह अपनी वेबसाइट को रैंक करने और क्वॉलिटी कंटेन बनाने में मदद करता है, कंटेंट लिखते समय हमें On page SEO पर हमें ध्यान देना चाहिए क्योंकि On page SEOअच्छा होने से हमारे वेबसाइट रैंक होने में मदद होती है। और यूजर ज्यादा देर तक हमारे साइट पर टाइम बिताते हैं और डोमेन अथॉरिटी भी बढ़ने में On page SEO मदद करता है। मैंने On page SEO Optimization कैसे करें इसपर आर्टिकल लिखा हुआ है तो यह चेक करें – ऑन-पेज SEO ऑप्टिमाइजेशन कैसे करें

फिर भी मैं आपको शार्टकट में समझाता हूं –

– अपने आर्टिकल में हमेशा Targeted Keywords का इस्तेमाल करिए।

– टाइटल में main कीवर्ड्स का इस्तेमाल करिए।

– शार्ट और SEO फ्रेंडली आर्टिकल लिखिए।

– कीवर्ड डेंसिटी पर ध्यान दें कीवर्ड डेंसिटी हमेशा 0.2% से 2.5% के बीच में रखे।

– हेडिंग में Tags का इस्तेमाल करें।

– इमेजेस का SEO करें और इमेजेज को Alt tags दे।

– मेटा डिस्क्रिप्शन को अट्रैक्टिव बनाओ और उसमें मेन कीवर्ड का इस्तेमाल करो, क्योंकि सर्च रिजल्ट में टाइटल के बाद हमें मेटा डिस्क्रिप्शन दीखता है , इसलिए लोग क्लिक करे ऐसा मेटा डिस्क्रिप्शन बनाए।

– आर्टिकल में अलग-अलग Synonyms के फोकस कीवर्ड का इस्तेमाल करें।

– पोस्ट में इंटरनल लिंकिंग और एक्सटर्नल लिंकिंग करें उससे डोमेन अथॉरिटी बढ़ने में मदद मिलती है।

– सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है डोमेन अथॉरिटी बढ़ाने के लिए वह है बैकलिंक्स। हाई क्वालिटी के बैकलिंक्स बनाओ हाई क्वालिटी के बैकलिंक्स के कारण आप का डीए तेजी से बढ़ेगा।

यह पढ़े – बैकलिंक्स क्या है और उसे कैसे बनाएं ?

– अपने साइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाएं क्योंकि 90% से भी ज्यादा लोग मोबाइल के द्वारा ही आपके वेबसाइट पर आते हैं इसलिए मोबाइल फ्रेंडली थीम का इस्तेमाल करो और फास्ट लोड होने वाले थीम का इस्तेमाल करो आप AMP एक्सीलरेटेड मोबाइल पेज का इस्तेमाल भी कर सकते हैं इसके कारण मोबाइल पर आपकी वेबसाइट बिल्कुल फास्ट चलेगी इसका एक प्लगइन आता है जो वर्डप्रेस पर अवेलेबल है

– अपनी साइट का पेज स्पीड बढ़ाइए आप GT Matrix और Page speed Insight पर अपनी वेबसाइट का स्पीड स्कोर चेक कर सकते हैं।

– अपने साइट को सिंपल और यूजर फ्रेंडली रखें।

– अपने आर्टिकल पोस्ट को तरह-तरह के सोशल मीडिया पर शेयर करें

– DA बढ़ाने के लिए हमें हाई क्वालिटी की बैकलिंक्स चाहिए होते तो उसके लिए गेस्ट पोस्टिंग करें

– अपने साइट पर रेगुलर पोस्ट पब्लिश करें।

– साइट पर एसएसएल सर्टिफिकेट एक्टिव करें।

– वेबसाइट को नेवीगेशन फ्रेंडली बनाइये ताकि यूजर को अपना टॉपिक ढूंढने में ज्यादा तकलीफ ना हो। और वह ज्यादा टाइम आपके साइट पर बिताये।

– वेबसाइट का Sitemap बनाइए।

– आपके वेबसाइट को अपडेट करिए।

– अपना वेबसाइट पुराण होने का इंतजार करें जैसे-जैसे वेबसाइट पुराना होते रहेगा आपकी धीरे-धीरे डोमेन अथॉरिटी बढ़ती रहेगी।

PA क्या है? (Page Authority क्या है? )

Page Authority को शार्ट में PA कहा जाता है, Page Authority एक ऐसी कंसेप्ट है जिसके कारण हमारे वेबसाइट की एक वेब पेज को सर्च इंजन में रैंक कराने की क्षमता रखती है। Page Authority हमारे वेबसाइट की ज्यादा रहेगी तो हमारे वेबसाइट के पेज एस आर्टिकल या पोस्ट जल्दी रैंक हो जाएंगे। जिस प्रकार Domain Authority पूरे डोमिन की रैंकिंग की क्षमता को बताती है, उसी प्रकार भेजो Page Authority अपने वेबसाइट के किसी सिंगल पेज या पोस्ट की क्षमता बताती है।

यह PA MOZ नामक के कंपनी ने बनाया है इसका इसका भी स्कोर DA जैसा 1 से 100 के बीच में काउंट होता है। Page Authority पेज को रैंक करने में मदद करता है। गूगल पर रैंक करने के लिए Page Authority काफी हद तक मदद करती है। लेकिन रैंकिंग के लिए सिर्फ यह जरूरी नहीं है और भी बहुत सारे फैक्टर्स है जो गूगल पर रैंक करने के लिए वेबसाइट के लिए जरूरी है।

आप यहां चेक कर सकते हैं – ब्लॉग आर्टिकल को गूगल पे रैंक कैसे करें

PA कैसे बढ़ाएं (Page Authority कैसे बढ़ाये – How to Increase Page Authority)

इसमें आपको वही करना है जो आपको मैंने बताया है डोमेन अथॉरिटी बढ़ाने के लिए

– Pages और आर्टिकल पोस्ट की हाई क्वालिटी बैकलिंक्स बनाइये।

– On page SEO पर ज्यादा फोकस करे।

– रेगुलर आर्टिकल लिखने की कोशिश करें।

– अपने आर्टिकल में इंटरनल लिंकिंग करें।

– वेबसाइट में आपके page का लोडिंग स्पीड फास्ट करें।

– मोबाइल फ्रेंडली वेबसाइट बनाए।

– क्वालिटी कंटेंट लिखिए। मतलब कि किसी का कंटेंट कॉपी मत करिये।

– आर्टिकल को यूनिक और seo-friendly बनाओ।

– कीवर्ड का इस्तेमाल अच्छे से करें।

अंतिम शब्द – इस आर्टिकल में हमने Domain अथॉरिटी और Page अथॉरिटी के बारे में सारी जानकारी कवर की है। आशा है कि यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। धन्यवाद!

Leave a Comment

%d bloggers like this: