Future में काम आने वाले High Demand Skills जो आपको 2022 में सिखने चाहिए।

Table of Contents

High Demand Skills For The Future You Should Learn in 2022 | Future में काम आने वाले High Demand Skills जो आपको 2022 में सिखने चाहिए।

High Paying Skills of the Future

अगर आपको 2023 की शुरुआत अच्छी करनी है, तो यह स्किल्स 2022 में सिख़लो।

High Demand Skills For The Future You Should Learn in 2022 , इन स्किल्स की शुरुआत 2022 से ज्यादा मात्र में शुरू हुई है, और यह 2023 में और ज्यादा इनकी डिमांड बढ़ेगी, और यह स्किल्स आप सिख लोगे तो आपको पैसे कमाने से कोई नहीं रोक सकता।  क्योंकि यह सारे स्किल्स 2023 में और उसके बाद high demand पर रहेंगे, क्यूंकि दुनिया धीरे धीरे पूरी ऑनलाइन होते जा रही है, इसलिए आपको 2023 में और उसके बाद लाखों – करोड़ों में पैसे कमाने है तो यह स्किल्स आप 2022 में जरूर सिख़लो, में guaranty देता हु की इसका 100 % फायदा आपको जरूर होगा, ऑनलाइन काम करने की सबसे फ़ास्ट शुरुवात तो

Co -vid 19 की वजह से हुई, जब उस टाइम पूरी दुनिया में Lockdown लगा था तो लोग work from home करने लगे, और कुछ लोगोने ऑनलाइन ही काम शुरू किया जैसे की YouTube Channel स्टार्ट किया, blogging स्टार्ट की, Freelancing, Affiliate Marketing, Digital Marketing , Video Editing etc. ऐसे बहुत सारे ऑनलाइन काम करने लगे, और उसमे करियर बना लिया। अब वह लोग घर बैठके ही काम करना पसंद करते है।

चलो में आपको वो सारे Skills  के बारे में बताता हु जो आपको 2022 में जरूर सिखने चाहिए।

1. Coding and Software Development –

कोडिंग एक कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा है जो कंप्यूटर के साथ संचार करने में मदद करती है। कंप्यूटर मानव भाषा नहीं समझते हैं।

टेक और आईटी कंपनियां अच्छे कोडिंग स्किल वाले लोगों को अच्छी सैलरी देती हैं। यह स्किल्स वाले व्यक्ति ली उनको बहुत ज्यादा जरुरत होती हैं, टेक और आईटी कंपनिया बहोत तेजी से बढ़ रही है, इसके कारन Coding स्किल्स वाले व्यक्तियों की Requirement बढ़ने वाली है, इसलिए अभी यह coding ज्यादा तर बच्चे सिख रहे है, Coding एक IT सेक्टर का अहम् हिस्सा है,  और coder की इंडिया में salary 1.5 लाख से 20 लाख तक की है, और average 4 लाख की है। और Foreign Countries में 50 लाख से भी ज्यादा annually इस Coding वाले स्किल्स की salary है।

इन जगह पर होती है Coding वाले स्किल की जरुरत।

Computer Programmer

Web Developer

Front-End Developer

Back-End Developer

Full-Stack Developer

Software Application Developer

Computer Systems Analyst

Computer Systems Engineer

Network Systems Administrator

Database Administrator


2. Digital Marketing

हर कोई अपना बिजनेस ऑनलाइन ले जा रहा है, इसके कारन ऑनलाइन बिज़नेस करने के लिए सबसे अहम् हिस्सा है Digital Marketing . Digital Marketing का इस्तेमाल करके हम हमारा कोई भी बिज़नेस को जीरो से कई गुना successful बना सकते है, क्योंकि दुनिया की हर एक व्यक्ति इंटरनेट, सोशल मीडिया चलाती है, तो इसी कारन दुनिया की हर व्यक्ति अपना बिज़नेस ऑनलाइन कर रही है, और उसकी मार्केटिंग भी ऑनलाइन कर रही है। 

Digital marketing का मतलब अपने products & services को बेचने के लिए और प्रमोट करने के लिए हम जो technologies इस्तेमाल करते है उसे डिजिटल मार्केटिंग या फिर ऑनलाइन मार्केटिंग कहते है,

डिजिटल मार्केटिंग सोशल मीडिया, ईमेल, सॉफ्टवेयर, वेबसाइट और मोबाइल ऐप जैसे चैनलों के माध्यम से Products और सेवाओं को बेचने का कार्य है। मूल रूप से, डिजिटल मार्केटिंग मार्केटिंग का कोई भी रूप है जिसमें इलेक्ट्रॉनिक उपकरण शामिल होते हैं।


3. Graphic Designing –

Graphic Designing एक तरह की आर्ट है, जिसमें टेक्स्ट और ग्राफिक की मदद से मेसेज बनाया जाता है। मेसेज ग्राफिक्स, लोगो, ब्राउचर्स, न्यूज लेटर, पोस्टर, इन्वेटिशन या फिर किसी भी रूप में हो सकता है। अगर आप क्रिएटिव हैं और नया करते रहना अच्छा लगता है, तो ग्राफिक डिजाइनिंग आपके लिए एक अच्छा करियर ऑप्शन हो सकता है। आप इसका कोर्स करके लाखों में घर बैठे कमा सकते है, या फिर आप किसी कंपनी के लिए काम कर सकते है, हर किसी न किसी कंपनी या बिज़नेस के लिए Graphic Designer की जरुरत होती है।


4. UI Designer

यूआई (UI) का फुल फॉर्म है ” यूजर इंटरफेस ” ( User Interface) है। आजकल नए गैजेट्स, डिवाइस, Apps आदि में बेहतर यूजर इंटरफेस बनाने पर ध्यान दिया जाता है ताकि लोगों को पसंद आये।

UI का इस्तेमाल आमतौर पर किसी सॉफ्टवेयर, App या Web डिजाइन के लिए  होता है । जब कोई यूजर या व्यक्ति किसी एप्लिकेशन का इस्तेमाल करता है तो उसका सबसे पहला संपर्क UI से ही होता है ।

इसमें एप्लीकेशन में मौजूद बटने, शब्द, फोटो की डिजाइन शामिल होती है ।

आपने देखा होगा की किसी सॉफ्टवेयर, एप या स्मार्टफोन में कंट्रोल्स अलग अलग ग्राफिक्स के रूप में होते है । जैसे किसी एप्लीकेशन में उसका आइकॉन, बटन, मेनू  होते है जिन्हें हम अपने स्मार्टफोन में टच करके या कंप्यूटर में माउस और कीबोर्ड से कंट्रोल करते है । यह सब UI के ही अंदर आते है और यह सब UI के कारण ही पॉसिबल है। UI डेवलपर की सैलरी इंडिया में 2 लाख से लेकर 40 लाख annually है, और Foreign में 60 लाख से स्टार्ट होती है।


5. Copywriting –

Copywriting एक लिखने का स्किल्स है, जो हर तरह की कंपनी और बिज़नेस के लिए जरुरी है, आप कंपनी या बिज़नेस के लिए जो भी लिखते है जैसे की advertising स्क्रिप्ट, मार्केटिंग स्क्रिप्ट, promotional material, article, webpage, सोशल मीडिया पेज यह सब काम एक Copyrighter करता है और यह सब टेक्स्ट के रूप में होता है , बादमे इसका designing ग्राफ़िक designer करता है और मार्केटिंग डिजिटल मार्केटर करता है। और copyrighter के बिना कंपनी या बिज़नेस अधूरा है, उनको इसकी जरुरत पड़ती ही पड़ती है।

Copywriter की इंडिया में average सैलरी 5 लाख है, और बहार की देश में इसकी 10 गुना ज्यादा है।


6. Video Editing –

Video Editing को requirement दिन ब दिन बढ़ती जा रही है, हर जगह वीडियो का ही इस्तेमाल हो रहा है, फिर वो YouTube हो , या कंपनी या फिर Business हो, सबको वीडियो की जरुरत होती है और वो भी अच्छे एडिटिंग किये गए वीडियो की, इसलिए वीडियो एडिटर की जरुरत होती है, हर एक कंपनी और बिजनेसमैन एक वीडियो एडिटर जरूर hire करती है, कंपनी के लिए आप काम करोगे वीडियो एडिटिंग का तो वो आपको पर ऑवर 700 से 1000 रुपये देगी। और आप खुद एडवांस लेवल की एडिटिंग करके किसी को दोगे तो उसके लिए 1 मिनट के वीडियो के लिए आप 1000 से 2000 भी चार्ज कर सकते है।

ऑनलाइन और यूट्यूब पर कई सारे आपको वीडियो एडिटिंग के कोर्स मिलेंगे , उससे आप वीडियो एडिटिंग का कोर्स कर सकते है।


7. Blockchain

ब्लॉकचेन की मांग तेजी से बढ़ रही है। ब्लॉकचैन के कारण अभी सिस्टम को हैक करना, बदलना या धोखा देना मुश्किल, लगभग असंभव हो जायेगा। Blockchain की मदद से डाटा secure रहेगा, उसे कोई भी हैक नहीं कर पायेगा, आजकल यह blockchain टेक्नोलॉजी बढ़ गयी है, और यह फ्यूचर में और ज्यादा बढ़ने वाली है। Cryptocurrency भी Blockchain पर आधारित रहेगी तो उसमे भी कोई Fraud होने के चान्सेस नहीं रहेंगे। इसका use सिर्फ क्रिप्टो में ही नहीं बहुत सरे क्षेत्र में होगा जिसकी कारन सबका डाटा सुरक्षित रहेगा, जिसे कोई हैक नहीं कर सकता।

Blockchain Developers ब्लॉकचैन प्रोटोकॉल्स डिज़ाइन करते है, और इसके अलावा स्मार्ट Contract बनाते है, स्मार्ट सॉफ्टवेयर डेवलप करते है, डाटा सुरक्षित रखते है।

फ्यूचर में ब्लॉकचैन का इस्तमाल ज्यादा होने वाला है, इसलिए ब्लॉकचैन डेवेलपर्स की भी requirement ज्यादा बढ़ने वाली है। 


8. Content Writing

Content Writer का इस्तेमाल कंपनी , बिज़नेस , Websites , Freelancing , के लिए होता है। आप content राइटिंग का जॉब किसी कंपनी , बिज़नेस या फिर वेबसाइट के लिए कर सकते है, या फिर Freelancing में आपको बहोत सारे जॉब्स मिलेंगे content writing के लिए। Freelancing साइट्स पर ज्यादा तर बहार के देश के लोग रहते है, इसीलिए हम उसके लिए काम करेंगे तो आपको ज्यादा पैसे मिलेंगे। कंटेन्ट राइटिंग का मतलब कंटेन्ट का मतलब होता है किसी भी विषय पर लिखा गया कोई आर्टिकल और Writing का मतलब होता है- लिखना। किसी भी विषय पर कोई कंटेंट  लिखने को Content Writing कहते हैं. जैसे की , अभी आप जो यह article पढ़ रहे हैं, यह कंटेन्ट मैंने लिखा है, और समझ जो की यह एक कंटेंट राइटर ने लिखा है।


Leave a Comment

%d bloggers like this: